पाठ्यक्रम

अवलोकन

एनआरएससी में भू-स्थानिक प्रौद्योगिकियों और परिचालन, वैज्ञानिक अनुसंधान और सामाजिक लाभों के लिए उपग्रह आंकड़े उत्पादों के प्रभावी उपयोग की दिशा में अनुप्रयोगों के लिए क्षमता निर्माण हेतु प्रशिक्षण पाठ्यक्रम चलाए जाते हैं।

प्रयोक्ता समुदाय : विभिन्न सरकारी/निजी/स्वायत्त/गैर सरकारी संगठनों के पदाधिकारियों तथा भूस्थानिक प्रौद्योगिकियों एवं इनसे संबंधित अनुप्रयोगों के क्षेत्र में काम करने वाले शैक्षणिक संस्थानों के संकाय एवं अनुसंधान कर्ता।

पाठ्यक्रम : लगभग 20 कार्यक्रमों के विभिन्न अनुप्रयोगों में अंतरिक्ष सूचना निवेशों के प्रभावी उपयोगों के लिए प्रयोक्ता समुदाय की क्षमताओं के निर्माण की दिशा में नियमित, विशेष/विषय उन्मुख एवं विशेष रूप से निर्मित पाठ्यक्रम चलाए जाते हैं तथा प्रत्येक वर्ष 500 पदाधिकारियों/ शैक्षणिक विद्वानों को प्रशिक्षण दिया जाता हैं।

आवश्यकता: पुन:प्राप्ति के लिए उपयोगी विभिन्न कार्यप्रणालियों के अनुकूलन में प्रभावी स्थानिक सूचना प्रौद्योगिकियों के कार्यान्वयन , राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर के कार्यालयों में सुशासन के कार्यान्वयन के लिए आवश्यक स्थानिक एवं गैर-स्थानिक गुणों के विश्लेषण के लिए सुदूर संवेदन, जीआईएस तथा वेब सूचना सेवाएं महत्वपूर्ण है। भूस्थानिक प्रौद्योगिकियों तथा अनुप्रयोगों के उपयोग में वृद्धि के लिए भी प्रयोक्ता समुदाय को सक्षम बनाता है।

दिनांक 4-15 मई 2020 के दौरान निर्धारित सूक्ष्मतरंग सुदूर संवेदन एवं अनुप्रयोग  रद्द कर दिया गया।

22-26 जून 2020 के दौरान निर्धारित अतिवर्णक्रमीय सुदूर संवदेन एवं अनुप्रयोग रद्द कर दिया गया।

13-24 अप्रैल 2020 को निर्धारित मुक्त स्रोत जीआईएस पाठ्यक्रम स्थगित कर दिया गया है।